केंद्र सरकार ले जानवरों के खरीद फरोख्त की वापस ले अधिसूचना

कानपुर नगर, मुस्लिम हेमोक्रेटिव फ्रन्ट के तत्वाधान में हुई एक बैठक में अध्यक्ष शाकिर अली उस्मानी ने कहा कि 26 मई 2017 को केन्द्र सरकार के वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने जो एक अधिसूचना जारी कर पशु बाजार में खरीद फरोख्त पर जो पाबन्दी लगायी है, उससे देश का करोडो किसाने, पशुपालक यादव, घोषी, गददी, पाल समाज सीधे प्रभावित हो रहा है। नये अधिसूचना के अनुसार गाय के साथ बैल, सांड, बछडवा, भैस, पडवा, उंट को बाजार में खरीदने पर हलफनामा का प्रावधान किया गया है।

कहा यह भारतीय संविधान के संवैधानिकता को खुली चुनौती है। बैठक में केन्द्र सरकार के इस अधिसूचना को वापस लेने की मांग की गयी तथा कहया गया कि प्रतिबन्ध अलाकतान्त्रिक, असंवैधानिक होने के साथ किसान व प्शुपालन विरोधी है। कहा मुस्लिम डेमोक्रटिव फ्रन्ट इस अधिसूचना का विरोध करती है और केन्द्र सरकार से इसे तत्काल वापस लेने की मांग करती है। बैठक में मनोज बाल्मीकि, अशरफ अली, नौशाद लारी, शाहिद खं, शोएब मन्सूरी, मुशेब खां, रियाजुर्रहमान आदि मौजूद रहे।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *