डिजिटल इंडिया को जमीनी स्तर पर किया जायेगा पेश

कानपुर नगर, जहां भारत की प्रति व्यक्ति आय में तेजी आने की वजह से हाल के समय में दानदाताओं की संख्या बढ़ी है वहीं इन तक सिर्फ बड़े संगठनों या आईएनजीओ की ही पहुंच उपलब्ध है। स्माइल फाउंडेशन ने भारत में अंतर्राष्ट्रीय क्षमता निर्माण पहल ‘चेंज द गेम एकेडेमी’ की शुरूआत करने के लिए डच के विकास संगठन वाइल्ड गेनजेन के साथ अपनी पहल की है।
एक कार्यक्रम के दौरान शांतनु मिश्रा ने चेंज द गेम एकेडेमी की जरूरत को स्पष्ट करते हुए कहा, ‘आदर्श तौर पर जमीनी एनजीओ और सीबीओ को समुदाय और सरकार के बीच इंटरफेस बनना चाहिए और उन योजनाओं तथा नीतियों के क्रियान्वयन में मदद करनी चाहिए जो समुदाय का मददगार बनकर इनकी राह में आने वाली खामियों को दूर करना चाहिए। लेकिन इसे संभव बनाने के लिए जमीनी स्तर के एनजीओ के निर्माण एवं उनका मार्गदर्शन करने की सख्त जरूरत है।

मिश्रा ने भविश्य के लिए अपने विजन पर प्रकाष डालते हुए कहा, ‘हम चेंज द गेम एकेडेमी को पूरे भारत के 30 विभिन्न षहरों में ले जाएंगे और शिक्षा, स्वास्थ्य और आजीविका जैसी महत्वपूर्ण विकासात्मक परियोजनाओं से जुड़े सीबीओ और एनजीओ के साथ मिलकर काम करेंगे। हमारा मकसद उन्हें स्थानीय प्राधिकरणों, कंपनियों, सरकार और संस्थानों जैसे विभिन्न हितधारकों के साथ भागीदारी करने के लिए प्रोत्साहित करने में मदद प्रदान करना और सामुदायिक स्तर पर निरंतर विकास के लिए ठोस प्रयासों को समर्थन प्रदान करना है।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *