हुक्का की मार से युवा बेहाल..बेचने वाले हो रहे मालामाल…ज्योति बाबा

कानपुर, 3 सितंबर उत्तर प्रदेश की जनप्रिय सरकार को कोरोना मिटाने के लिए जहां हुक्का बार प्रतिबंध लगाने को प्रदेश में प्राथमिक पहल करनी चाहिए थी लेकिन अन्य जनहित के मुद्दों की तरह हाई कोर्ट ने पीआईएल पर हुक्काबार पर प्रतिबंध लगाकर एक बड़ा काम करोना को हराने के लिए किया है।

जिसका सभी प्रदेश के स्वास्थ्य प्रेमियों ने हर्षित स्वागत किया है उपरोक्त बात सोसायटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में संविधान रक्षक दल के सहयोग से नशा हटाओ कोरोना मिटाओ हरियाली बढ़ाओ अभियान के तहत आयोजित वर्चुअल बैठक विषय हुक्काबार और किशोर जगत पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरू ज्योति बाबा ने कही श्री ज्योति बाबा ने आगे बताया कि प्रदेश में हुक्का बार पर जैसे प्रतिबंध हाईकोर्ट ने लगाया है।

वैसे ही इसमें प्रयुक्त होने वाली फ्लेवर तंबाकू व अन्य संबंधित वस्तुओं पर प्रतिबंध सरकार को अविलंब लगाना चाहिए वरना प्रदेश में 18 वर्ष के नीचे के लती बन चुकी आधी युवा व किशोर आबादी अन्य माध्यमों से हुक्का का सेवन कर कोरोना जंग में बड़ी बाधा खड़ी करेंगे।

राष्ट्रीय संयोजक योग ज्योति इंडिया कुलदीप सिंह परमार एडवोकेट ने कहा कि अब तो ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों ने पीने के ग्रुप बना लिए हैं और जमकर हुक्का का सेवन कर रहे हैं परिणाम स्वरूप व्यभिचार और यौन शोषण की घटनाओं के साथ चोरी और बलात्कार हत्या जैसे मामले में भी किशोर बड़ी भूमिका निभा रहे।

इसीलिए सरकार और सामाजिक संगठनों को बच्चों की काउंसलिंग के लिए व्यापक स्तर पर कैंपों का लगाया जाना जरूरी है वरना लती किशोर युवा समाज विरोधी कामों में लिप्त होकर परिवार व समाज को ही बिखेरने का काम करेंगे।

वर्चुअल बैठक का संचालन युवा समाजसेवी आलोक मेहरोत्रा व धन्यवाद समाज चिंतक राकेश चौरसिया ने दिया।अन्य भाग लेने वाले प्रमुख विचारक सर्वश्री राजेंद्र कश्यप संयोजक संविधान रक्षक दल,महंत राम अवतार दास,स्वामी गीता इत्यादि थी।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *