योग ज्योति इंडिया ने बालश्रम समाप्त करने हेतु भारत के बचपन को नशे के रोग से बचाने का संकल्प लिया…ज्योति बाबा

कानपुर, 20 सितंबर देश में बढ़ रहे बाल श्रम के चलते अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि नशे के रोग में घिरे बचपन के कारण नकारात्मक बन रही है उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में बूंदे संस्था के सहयोग से सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों के तहत दनादन मंदिर परिसर गौशाला चौराहा कानपुर में आयोजित नशा मुक्त जन जागरूकता बैठक में अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने कही।

श्री ज्योति बाबा ने आगे कहा कि देश में अत्याधिक शराब खोरी ड्रग्स खोरी के चलते परिवार का मुखिया कच्ची गृहस्ती छोड़कर चला जाता है और फिर परिवार चलाने के लिए बच्चों को बाल मजदूरी कर जीवन यापन करना पड़ता है इसीलिए बालश्रम उन्मूलन नारे से आगे नहीं बढ़ पा रहा है।

बैठक में भारत की बेटी कंगना राणावत द्वारा मुंबई फिल्म इंडस्ट्री और ड्रग्स माफिया के गठजोड़ उजागर कर पूरे देश के जागरूक युवाओं और मातृशक्ति की आवाज बन चुकी है और देश और दुनिया का ध्यान ड्रग्स के चलते कैसे नवोदित सितारे अपना जीवन खत्म कर युवा शक्ति के सम्मुख निकृष्ट छवि बना रहे हैं।बैठक की अध्यक्षता करते हुए अजय शर्मा एडवोकेट ने कहा कि देश जहां पहले से ही गरीबी कुपोषण और अशिक्षा झेल रहा है उस पर नशे का रोग परिवार को नष्ट कर समाज का ताना-बाना छिन्न-भिन्न कर देगा।

बैठक का संचालन संजीव गुरु जी तथा महंत राम अवतार दास ने धन्यवाद दिया,अंत में सभी को कोरोना मिटाओ नशा हटाओ पेड़ लगाओ अभियान को पूर्ण करने के लिए महाशपथ योग गुरु ज्योति बाबा ने दिलाई।अन्य प्रमुख सर्वश्री आलोक मेहरोत्रा ओम नारायण त्रिपाठी,राकेश चौरसिया ,स्वामी गीता इत्यादि थी।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *