ऊंचाहार विधानसभा में माता बहनों के दुलारे बन रहे भावी विधायक अशोक मौर्य जन जन की यही पुकार ……..फिर एक बार योगी सरकार

ऊंचाहार (रतन ज्योति संवाददाता) ऊंचाहार विधानसभा क्षेत्र की जनता की नब्ज पकड़ने के लिए रतन ज्योति समाचार पत्र के संवाददाता ने एक दिवसीय दौरा कर वहां कि सड़क स्वास्थ्य सफाई और सरकारी योजनाओं का जमीनी क्रियान्वयन हो पाया या नहीं और कोरोना काल में किस स्थिति से लोग गुजरे तथा रोजी रोजगार की क्या समस्या रही इत्यादि पर महिलाओं,गरीबों,युवाओं और किसानों से विशेष रूप से चर्चा की वहां के लोगों में जो सबसे बड़ी बात दिखाई दी वह 2022 के भावी विधायक प्रत्याशी अशोक मौर्य के लिए प्यार स्नेह व बड़ों का आशीर्वाद प्रमुख है सबसे बड़ी बात है कि जो वर्तमान सरकार की जनहित की गरीबों के हित की योजनाएं चलाई जा रही हैं वहां पर उनका लाभ दिखाई पड़ रहा है और कोरोना काल में मजदूरों के खाते पर रुपए पहुंचे किसानों के खाते में रुपए गए और फ्री राशन प्राप्त हुआ तथा समय-समय पर स्वास्थ्य शिविरों के माध्यम से लोगों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए काम हुआ महिला स्वाभिमान,स्वावलंबन के लिए बड़ा काम हुआ और अब तो वहां पर कोरोना वैक्सीन लगवाने का एक जुनून सा दिखाई पड़ रहा है पिछले 5 वर्षों में क्षेत्र के हर सुख दुख मे साथ खड़े रहने वाले युवाओं का प्रतिनिधित्व करते हुए अशोक मौर्य ने रात दिन सेवा कार्य किया,जिस उम्र में लोग अन्य कई शौक रखते हैं उस उम्र में सेवा समर्पण और त्याग के भाव से भरा हो कर जमीनी काम को अंजाम देने का जज्बा रखने वाले अशोक मौर्य वास्तव में जनता के आशीर्वाद के पात्र बन चुके हैं आपका एक ही मंत्र है संगठित हो शिक्षित हो और जनहित में संघर्ष करो।अशोक मौर्य ने ऊंचाहार क्षेत्र के लगभग सभी गांवों में दौरा कर लोगों की समस्याओं को सुनकर उनके निराकरण हेतु जमीनी कार्य किए हैं आपकी लोकप्रियता का आलम यह है कि वहां कुछ क्षेत्रों में शादियों में बेटियां कहती हैं कि जब तक भैया अशोक मौर्य आशीर्वाद नहीं देने आएंगे तब तक हम विदा नहीं होंगे मैंने क्षेत्र में जब युवाओं से अशोक मौर्य के बारे में जाना तो उन्होंने कहा कि इस बार भैया अशोक मौर्य को हर हाल में अपना नेता चुनना है और उनको राष्ट्रवादी नीतियों के क्रियान्वयन के लिए भारी बहुमत के साथ क्षेत्र के विकास हेतु लखनऊ भेजेंगे।अशोक मौर्य सभी वर्गों में ऊंचाहार क्षेत्र में जनता की पहली पसंद बन चुके हैं और तो और उन्हें तो लोग यहां अभी से युवाओं का मसीहा भी कहने लगे हैं।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *