जे0 ई0 की मनमानी के आगे दम तोड़ रहा विद्युत विभाग संगठन ने 05.08.2021 तक कार्यवाही का दिया अल्टीमेटम, अन्यथा होगा धरना प्रदर्शन।

सीतापुर, 24 अगस्त सदर तहसील की ग्राम नरसोही निवासिनी शान्ती देवी पत्नी स्व0 महाबीर मौर्य ने एल टी कनेक्शन करवाने हेतु दिनांक 25.02.2021 को अधीक्षण अभियन्ता, सीतापुर को एक प्रार्थना पत्र दिया था जिस पर अधिशासी अभियन्ता ने स्वीकृति के उपरान्त अधिशासी अभियन्ता, बिसवां को लिखित रूप से कनेक्शन करने हेतु निर्देशित किया था जिस पर अधिशासी अभियन्ता ने तत्काल कनेक्शन करने हेतु एस0डी0ओ0, हरगांव को लिखित व मौखिक रूप से निर्देशित किया परन्तु विद्युत उपकेन्द्र, झरेखापुर के जे0ई0 अभिनव कुमार शुक्ला की मनमानी के चलते एल टी कनेक्शन की जगह पी टी डब्यूु व कनेक्शन किया गया। जिसका कनेक्शन नं0-1008090605 है। पुनः जब अधीक्षण अभियन्ता से सम्पर्क किया तो उन्होंने मौखिक रूप से निर्देशित किया और दूसरी बार आनलाइन आवेदन करवाया गया जिसमें जे0ई0 द्वारा कहा गया कि हमने जांच कर ली है आपके गांव में 25-25 किलोवाट के 02 सार्वजनिक ट्रान्सफार्मर लगे हैं।

जिस ट्रान्सफार्मर पर कनेक्शन का अनुरोध किया गया है उस पर 01-01 किलोवाट के मात्र 03 घरेलू कनेक्शन हैं इसलिए ग्राम प्रधान से लेटर पैड पर नो आब्जेक्शन लिखवा दीजिए, कनेक्शन कर दिया जायेगा। ग्राम प्रधान व ग्रामवासियों की तरफ से नो आब्जेक्शन लिखाकर जे0ई शुक्ला को दिया तो जे0ई0 शुक्ला ने कहा आपका आवेदन निरस्त हो चुका है इसलिए पुनः आवेदन करिये। जब तक तीसरा आनलाइन आवेदन करवाया गया तब तक जे0ई0 शुक्ला का स्थानान्तरण हो चुका था। आवेदक वर्तमान जे0ई0, राकेश से मिलकर सारे कागज उपलब्ध करवाये और कनेक्शन के लिए अनुरोध किया तो उन्होंने कहा कि लगभग 05 माह पुराना आदेश है पूर्व जे0ई0 द्वारा कनेक्शन क्यों नहीं किया गया? सारे कागज वापस कर दिया और पुनः मनमाने तरीके से एल टी की जगह पी टी डब्यू्यों कनेक्शन कर दिया गया, जिसका कनेक्शन सं0-1008115529 है। पुनः जे0ई0 से सम्पर्क किया गया तो उन्होने बताया कि एल टी कनेक्शन पर रोक है। मामला भारतीय किसान मंच के संज्ञान में आया तो प्रदेश अध्यक्ष ने अधिशासी अभियन्ता, बिसवां से फोन पर बात की उन्होंने बताया कि कनेक्शन की रिपोर्ट जे0ई0 लगाता है इसमें मेरी कोई गलती नहीं है और आप एस0डी0ओ0, हरगांव से मिल लीजिए।

आपका कार्य हो जायेगा। एस0डी0ओ0, हरगांव से बात करने पर एस0डी0ओ ने लाचारी प्रकट करते हुए कहा मैने कई बार कहा है परन्तु जे0ई0 मेरी बात नहीं मानता है। बात संगठन की समझ से परे है आखिर जे0ई0 के सामने, एस0डी0ओ0 व अधिशासी अभियन्ता की लाचारी क्यों? पूर्व जे0ई0 शुक्ला से कनेक्शन के सम्बन्ध में हुई वार्ता में काल रिकार्डिंग में स्पष्ट कहते हैं कि कनेक्शन के लिए उच्चाधिकारियों से आदेश प्राप्त हुआ है, कोई दिक्कत नहीं है, आपका कनेक्शन कर दिया जायेगा और वर्तमान जे0ई0, राकेश द्वारा कहा जाता है कनेक्शन पर रोक है। क्या हर कर्मचारी के लिए बिजली विभाग में अलग-अलग नियम या कानून है? उच्चाधिकारियों के आदेश को न मानने पर दोषी दोनों जे0ई0 के खिलाफ विभाग द्वारा कार्यवाही क्यों नहीं की गयी? उच्चाधिकारियों के आदेश व अब तक की गयी कार्यवाही के समस्त कागजात की फोटोप्रति व काल रिकार्डिंग संगठन के पास सुरक्षित है।

संगठन में आक्रोश इस बात पर है यदि एल टी कनेक्शन पर रोका थी तो विभाग के उच्चाधिकारियों द्वारा लिखित व मौखिक आदेश क्यों किया गया? फिर भी यदि जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा गलत निर्देश दिये गये तो प्रथम आनलाइन आवेदन पत्र में एल टी कनेक्शन का शासनादेश संख्या लिखकर या प्रति लगाकर आवेदन पत्र का निस्तारण कर देते। आवेदक 06 माह तक विभाग के चक्कर क्यों लगाता? आवेदक से दूसरा फिर तीसरा आवेदन क्यों कराया गया? संगठन को प्रतीत होता है कि विद्युत खण्ड बिसवां, जिला सीतापुर के समस्त कर्मचारी व अधिकारी सिर्फ और सिर्फ खाऊ, कमाऊ नीति पर काम करने का एक गिरोह है, जो हमारे किसान भाइयों, उपभोक्ता व आम जनता के लिए अभिशाप है। कार्य में लापरवाही, सरकार की मंशा के विपरीत कार्य करने, अपने दायित्व व कर्तव्य के प्रति सत्यनिष्ठ न होना, एक-दूसरे पर दोषारोपड़ करना, आवेदक को गुमराह करने, अनुरोध के विपरीत कार्य करने, अनुशासनहीनता, कनेक्शन में देरी करना, अनुचित लाभ लेने की मंशा से झॅूठ बोलने, उच्चाधिकारियों के आदेश को न मानने और खाऊ, कमाऊ नीति पर कार्य करने जैसे कई गम्भीर दोष सिद्ध होते हैं। जब हमारे संगठन के जिला स्तरीय पदाधिकारी के साथ ऐसा बर्ताव किया गया तो आम जनता के साथ इनका रवैया क्या होगा, यह एक सोंचनीय प्रश्न है? फिलहाल देखना दिलचस्प होगा कि आखिर दोषी कर्मचारियों पर कार्यवाही कब होगी?

इस प्रकरण को लेकर संगठन में काफी जन आक्रोश है। अतएव, उपरोक्त प्रकरण व जनहित को लेकर भारतीय किसान मंच आपसे निम्न मांग करता है-

1.घोर लापरवाही, सरकार की मंशा के विपरीत कार्य करने, गुमराह करने, अनुचित लाभ लेने की मंशा से झॅूठ बोलने, अनुरोध के विपरीत कार्य करने व खाऊ, कमाऊ नीति पर कार्य करने वाले पूर्व जे0ई0 अभिनव कुमार शुक्ला व वर्तमान जे0ई0, राकेश को तत्काल प्रभाव से निलम्बित किया जाय।

2.एस0डी0ओ0, हरगांव का स्थानान्तरण किया जाय या सेवा में प्रतिकूल प्रविष्टि की जाय।

3.छः माह से लम्बित कनेक्शन किया जाय तथा नरसोही गांव में उत्तर तरफ लगे सार्वजनिक ट्रान्सफार्मर से गांव के दक्षिण आबादी तक 100 मीटर पर लगे पोल के बीच में नये पोल लगाकर 02 दशक पुराने जर्जर तारों को बदलकर आबादी तक जाली लगायी जाय।अतः उपरोक्त 03 सूत्रीय मांग पर तत्काल ठोस एवं प्रभावी कार्यवाही की जाय अन्यथा संगठन कार्यालय अधीक्षण अभियन्ता, परिसर सीतापुर में दिनांक 05.09.2021 से अनिश्चित कालीन धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होगा जिसकी समस्त जिम्मेदारी बिजली विभाग, प्रशासन व शासन की होगी।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *