वृक्षों से मेल जीवन का खेल…ज्योति बाबा

कानपुर, 29 जून स्वस्थ,सुरक्षित और मानसिक रूप से प्रसन्न रहने के लिए वृक्षारोपण का संकल्प सभी को लेना है ताकि अपने आसपास का वातावरण प्राकृतिक बने,जिस प्रकार फूलों पेड़ों में प्रकृति की रचनात्मकता भरी है उसी प्रकार हम जो कार्य करें उसमें भी रचनात्मकता संसार को दिखाई दे तो जीवन सफल है उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया,वंचित समाज अनुसूचित जाति कल्याण महासभा,उत्तर प्रदेश वैश्य व्यापारी महासभा के संयुक्त तत्वाधान में नशा हटाओ पेड़ लगाओ कोरोना मिटाओ अभियान के तहत नानाराव पार्क कानपुर में आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम के बाद हुई पर्यावरण सभा में अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख व पर्यावरण प्रेमी योग गुरु ज्योति बाबा ने कही।

बाबा ने कहा कि हमें जानवरों से सीख लेनी चाहिए कि जब वह भरा पेट होता है तो प्रकृति को नुकसान नहीं पहुंचाता है लेकिन इंसान भरा पेट होने के बावजूद भी प्रकृत का अहित करता है जबकि पेड़ थोड़ा पानी व सूरज की किरणें लेकर फल फूल सहित इतना कुछ दे देते हैं इससे सिद्ध होता है कि बड़ा वही होता है जो देता ज्यादा है लेता कम है रवि शंकर हवलकर सदस्य प्रदेश शासन समिति ने कहा कि माननीय योगी जी के नेतृत्व में हरियाली और विकास में सामंजस्य बनाते हुए वृक्षारोपण के द्वारा प्रकृति का संरक्षण करने का ठोस प्रयास किया जा रहा है।

कोरोना योद्धा उत्तर प्रदेश सम्मान से सम्मानित डॉ शरद बाजपेई ने कहा कि हरियाली देखते ही आंखों की देखने की क्षमता में बढ़ोतरी हो जाती है इसीलिए वृक्ष लगाओ जीवन पाओ के मंत्र को हम सब को अपनाना है प्रदेश अध्यक्ष सत्य प्रकाश गुलहेरे की पेड़ से हमें सीखना चाहिए जो पुरानी पत्तियों को छोड़ता है और नई पत्तियों को आत्मसात करता है जबकि इंसान पुरानी बातों को पकड़े रखकर नए विचारों का स्वागत नहीं करता है जिससे वह कुंठा व परेशानी का शिकार रहता है।अंत में सभी को ज्यादा से ज्यादा वृक्षों को लगाने व लगे वृक्षों को बचाने की शपथ योग गुरु ज्योति बाबा ने दिलाई।कार्यक्रम का संचालन हरदीप सिंह सहगल व धन्यवाद महंत राम अवतार दास ने दिया।अन्य प्रमुख रोहित कुमार,हरदीप सिंह,शकुंतला तिवारी,नवीन गुप्ता,काली शंकर मिश्रा एडवोकेट इत्यादि थे।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *