तालिबानी ड्रग्स की सरकार से भारत,अमेरिका सहित कई देश चिंतित..ज्योति बाबा

कानपुर, 24 सितंबर वैष्णवी (संवाददाता) जो अफगानिस्तान में तालिबानी सरकार बनाने से पहले ड्रग्स के व्यवसाय से दूर रहने व मानवाधिकारों का पालन करने तथा महिला अधिकारों को बनाए रखने की बात जोर शोर से कर रहे थे उन्होंने सरकार बनाने के बाद सबसे पहले इस्लामी शरिया कानून के तहत महिलाओं के अधिकारों पर कुठाराघात कर दिया और जिस इस्लाम में नशा हराम है उसी इस्लाम के मानने वालों ने नशे का अवैध व्यापार अपनी भुक्कड़ अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए शुरू कर दिया,इससे पूरी दुनिया में उसकी छवि वही पुराने तालिबानी शासन की याद ताजा कर रही है उसने कहा था हम पुराने तालिबानी ना होकर नई सोच के तालिबानी हैं जबकि उसकी कथनी और करनी में कोई सामंजस्य नहीं दिख रहा है उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में राष्ट्रीय युवा हिंदू वाहिनी नीतू शर्मा के सहयोग से नशा हटाओ कोरोना मिटाओ युवा धन बचाओ अभियान के तहत संस्था कार्यालय में आयोजित ई-संगोष्ठी शीर्षक क्या तालिबानी ड्रग्स की सरकार से दुनिया में आतंक बढ़ने का खतरा है पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने कही।

ज्योति बाबा ने कहा कि ड्रग्स एंड क्राइम पर संयुक्त राष्ट्र (यूएनओडीसी) की रिपोर्ट के अनुसार पिछले साल वैश्विक अफीम उत्पादन में अफगानिस्तान का योगदान 85% था और अफीम से बनने वाली हीरोइन पंद्रह सौ गुना ज्यादा नशीली होती है इसीलिए एक बार जिसने भी हीरोइन का नशा शौकिया या जिज्ञासा वश किया वह उसका लती बन जाता है इसीलिए बहुत महंगी बिकती है अभी हाल में अफगानी हीरोइन भारत के गुजरात में 3000 किलो लगभग 20000 करोड़ रुपए से ज्यादा की सबसे बड़ी पकड़ी गई है जिससे साफ हो जाता है कि तालिबानी सरकार चलाने के लिए ड्रग्स का अवैध व्यापार शुरू कर चुके हैं इससे भारत सहित अमेरिका,ऑस्ट्रेलिया,जापान व अन्य यूरोपियन देशों की युवा शक्ति पर खतरा बढ़ गया है अंत में ज्योति बाबा ने सभी को ड्रग्स मुक्त मानव की शपथ भी दिलाई,अन्य प्रमुख हरदीप सिंह सहगल,दीपक सोनकर,गीता पाल,नीतू शर्मा,संगीता तिवारी और रोहित कुमार इत्यादि थे।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *