हुक्का बार की लत पूरी ना होने पर हत्या और आत्महत्या के भाव प्रचंड वेग से आना…

कानपुर, 13 सितंबर कोरोनावायरस महामारी या आने वाली उससे भी बड़ी बीमारी से निपटने के लिए कोटपा लॉ को परिणाममूलक बनाने के लिए सख्त इंप्लीमेंटिंग फोर्स बनानी होगी उपरोक्त बात सोसायटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में कोरोना मिटाओ नशा हटाओ हरियाली बढ़ाओ अभियान के तहत कॉन चेंबर सिविल लाइंस में आयोजित वर्चुअल संगोष्ठी शीर्षक कोरोना महामारी को बढ़ाने में क्या सिगरेट व अन्य तंबाकू उत्पाद योगदान दे रहे हैं पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरू ज्योति बाबा ने कही।

श्री ज्योति बाबा ने आगे कहा कि पूरे शहर में हर व्यक्ति अपने मुख को गुदाद्वार से भी ज्यादा गंदा बनाए जगह-जगह थूक कर व सिगरेट के छल्ले उड़ा कर कोरोनावायरस को फैलाने का काम कर रहा है।परिणामस्वरूप पहले से कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता के कारण कोरोना संक्रमित बनकर अपने साथ दूसरों के जीवन को भी मुश्किल में डाल रहा है सबसे बड़ी बात पान मसाला तंबाकू हुक्का बार सिगरेट का सेवन करने वाला मास्क नहीं पहनता है और सैनिटाइजर का प्रयोग भी नहीं करता है।

इस लापरवाही से जीवनयापन करने के चलते कब संक्रमित हो जाता है उसे खुद पता नहीं चलता है इसीलिए सभी मित्रों भैया बहनों सामाजिक संगठनों क्रांतिकारी साथियों से निवेदन है कि केवल सरकार के भरोसे ना बैठकर बल्कि मेडिकल गाइडलाइंस का स्वयं पालन करते हुए अपने आसपास के वातावरण को भी पालन करने हेतु नम्र निवेदन करें।

नशा मुक्त युवा भारत अभियान के राष्ट्रीय संयोजक कुलदीप सिंह परमार एडवोकेट ने कहा कि शहर के ग्रामीण अंचलों में तो नकली पान मसाला जो नॉर्म्स को पूरा नहीं करते हैं धड़ल्ले से प्लास्टिक पाउच में बिक रहे हैं जिन पर शासन व प्रशासन कोई संज्ञान न लेने के चलते कोरोना गांवों में भी तीव्रता से पैर पसार रहा है बूंदे संस्था के राष्ट्रीय प्रमुख संजीव गुरु जी ने कहा कि बच्चों युवा किशोरों में पड़ चुकी पान मसाला गुटखा हुक्काबार की लत इन्हें कोरोना संक्रमित बनाकर देश के युवा धन में कमी कर रही है।

प्रदेश संयोजक ओम नारायण त्रिपाठी ने कहा कि प्रशासन को कोटपा ला लागू करने हेतु योग ज्योति इंडिया इस महामारी काल में आपके एक आवाहन पर अपने को सहर्ष प्रस्तुत करने के लिए तैयार है वर्चुअल संगोष्ठी का संचालन अजय शर्मा एडवोकेट व धन्यवाद समाज चिंतक राकेश चौरसिया ने दिया प्रमुख श्री सुभाष त्रिपाठी एडवोकेट आलोक मेहरोत्रा स्वामी गीता, महंत अवतार दास जी थे।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *