किशोरों युवाओं का नशे का नया ठिकाना हुक्काबार फिर भारत से कैसे मिटेगा बलात्कार…ज्योति बाबा

कानपुर, 5 अक्टूबर निर्भया कांड के बाद बने कठोर कानूनों से यह उम्मीद बंधी थी कि अब बलात्कारों में काफी कमी आएगी लेकिन पिछले 3 साल के एनसीआरबी के आंकड़े बताते हैं की बलात्कार कांड पांच गुना तक बढ़ गए हैं। 

जिसका अर्थ है कि कठोर कानून के साथ सामाजिक नैतिक जागरूकता को और तेज करना होगा वरना यह लाइलाज बीमारी बनकर हाथरस की बेटी की तरह नित्य का कर्म बन जाएगी,उपरोक्त बात सोसायटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में नशा हटाओ कोरोना मिटाओ बेटी बचाओ अभियान के तहत दनादन मंदिर गौशाला चौराहा कानपुर में आयोजित नशा व कोरोना से मुक्ति के लिए नमस्कार सभा के अवसर पर अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरू ज्योति बाबा ने कही।

श्री ज्योति बाबा ने आगे कहा कि शुरुआती स्तर से ही अपने बेटे और बेटियों में फर्क करना बंद करना होगा और बेटों को भी बेटियों की रक्षा के लिए स्कूल व घरों में नैतिक संस्कारों की शिक्षा अनिवार्य रूप से देनी होगी,श्री ज्योति बाबा ने कहा कि बलात्कार की लगातार बढ़ती घटनाओं के पीछे बच्चों के बचपन में नशा व मोबाइल का प्रवेश प्रमुख कारण है क्योंकि अस्वस्थ खानपान,प्रदूषित वातावरण,मुंबईया फिल्में व नशा हुक्काबारों के कॉकटेल के चलते दिग्भ्रमित युवा समाजविरोधी कामों को अंजाम देने से नहीं डरता है।

इसीलिए हम सभी योग ज्योति के स्वास्थ्य सैनिक आपको नमस्कार करते हुए नम्र अनुरोध करते हैं कि बेटियों को सुरक्षित वातावरण देना हमारा प्रथम धर्म है क्योंकि स्वस्थ बेटी से स्वस्थ परिवार और स्वस्थ राष्ट्र के हंसते फूल खिलेंगे।

सभा में सभी ने एक स्वर में देश के बचपन को नशा व कोरोना से बचाने का जमीनी कार्य और तेज करने का संकल्प लिया।सभा का संचालन बूंदे संस्था के प्रमुख संजीव गुरु जी व धन्यवाद अजय शर्मा एडवोकेट ने दिया।अन्य प्रमुख सर्वश्री ओम नारायण त्रिपाठी,राकेश चौरसिया,आलोक मेहरोत्रा,भूपेंद्र सिंह भाटिया,मुन्ना चौरसिया,स्वामी गीता इत्यादि थी।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *