बुजुर्गों ने मनोरंजन भोजन का जमकर उठाया लुत्फ

लखनऊ/ बाराबंकी, 31 जनवरी अपनो के प्यार से दूर वृद्धाश्रम में रह रहे बुजुर्गो को जब गीत संगीत के साथ अपने पन का प्रेम माहौल मिला तो उनकी खुशी का ठिकाना न रहा। मौका था मातृ पितृ सदन वृद्धाश्रम में टीम लखनऊ की शान द्वारा आयोजित आंनद उत्सव का।बाल कलाकारों द्वारा बुज़ुर्गो का मनोरंजन किया गया।

रविवार को बाराबंकी जिले के सफेदाबाद क्रासिंग स्थित मातृ पितृ सदन वृद्धाश्रम में बुज़ुर्गो ने आनंद उत्सव में खूब आंनद लिया। ये कार्यक्रम लखनऊ की शान हेल्प ग्रुप,सीटीसीएस फैमिली एनजीओ,अजंली फ़िल्म प्रोडक्शन एवं आशा वेलफेयर फाउंडेशन की तरफ से आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत बुज़ुर्गो पर पुष्प वर्षा के बाद देवी गीत एवं पूजन से शुरू हुई।कार्यक्रम की होस्ट बानी चावला ने बदन पे सितारे लपेटे हुए गाया,अदिति वर्मा ने ज़िन्दगी प्यार का गीत है बुज़ुर्गो को सुनाया,इसके बाद ऐमन जावेद ने सत्यम शिवम सुंदरम एवं अमन जावेद ने इतना न मुझसे तू प्यार बढ़ा गीत सुनाया।

बाल कलाकार वागीशा पंत ने अपने माँ बाप का तू दिल न दुखा पर एवं रूबल जैन में वेस्टर्न स्टाइल में नृत्य प्रस्तुत किया एवं मोहित सिंह ने बहुत प्यार करते है तुमको सनम पर सबका ध्यान आकर्षित किया।सभी कलाकारों ने एक से बढ़कर एक गीत बुज़ुर्गो को सुनाया।पूरा माहौल खुशियों से सराबोर हो गया। वृद्धाश्रम में रह रहे बुज़ुर्गो ने भी गाना गाकर अपनी खुशी प्रकट की।पूरे कार्यक्रम के दौरान बुज़ुर्गो को पौष्टिक खीर, फ्रूट चाट एवं समोसा नाश्ते के रूप में दिया गया।

गायन एवं नृत्य प्रस्तुत करने वालो को बुज़ुर्गो द्वारा ही प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया

बुज़ुर्गो की सुविधा के लिए उन्हें नहाने का साबुन,कपड़े धोने का साबुन,कोल्ड क्रीम,नमकीन एवं बिस्कुट का किट भी वितरण किया गया।वृद्धाश्रम में सेवा कर रहे पंद्रह सेवादारों को प्रशस्ति पत्र एवं डायरी देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों को कलम मित्र सम्मान भी दिया गया जिसमें लखनऊ बाराबंकी के विभिन्न पत्रकार शामिल रहे।

कार्यक्रम को सफल बनाने में बृजेन्द्र बहादुर मौर्य,आलोक अग्रवाल,सुनीता यादव,अजंली पांडेय एवं मनोज कुमार का विशेष सहयोग रहा।इस दौरान प्राथमिक विद्यालय गोयला बीकेटी के प्रधानाचार्य सुरेश जैसवाल रिटायर्ड पीसीएस सतीश दलेला,दीपक राजभर,मनदीप कौर,रुचि अरोड़ा,रूपा सिंह,अहमद खान एवं संजय जैन उपस्थित रहे।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *