कोरोना के भ्रामक खबरों को परोसने से बचें पत्रकार-एस.डी.पाल

लखनऊ,31 मई इलेक्ट्रॉनिक एंड प्रिंट मीडिया एशोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष एस.डी.पाल ने कोरोना संक्रमण से सम्बंधित कतिपय खबर नबीसों एवं उन फेंक खबरों पर चिंता व्यक्त किया है जो समाज मे कोरोना को लेकर भय का माहौल बना रहे हैं।सुश्री पाल आम जनमानस से अपील किया है कि कोरोना एल 2 से घबराने या भयातुर होने की जरूरत नहीं है।उन्होंने कहा कि कुछ कतिपय सोशल मीडिया एवं फेंक खबरों में कोरोना के प्रभाव को गलत ढंग तथा बढ़ा चढ़ा कर परोस रहें हैं।सुश्री पाल ने आमजनमानस से अपील की है कि इस संकट पूर्ण घडी में धैर्य,साहस,औऱ सावधानी ही जीवन संजीवनी है।साथ ही जनमानस को ऐसे भ्रामकता फ़ैलाने खबरों को नजरअंदाज करने कीअपील की।पाल ने कहा कि सरकार द्वारा निर्धारित गाइड लाइन की सीमा रेखा का पालन संक्रमण से बचाव का आमोघ अभेद कवच है।

पत्रकार करें अपने दायुक्तो का निर्वहन ! पाल

सुश्री पाल ने मीडिया के विभिन्न अंगों के खबर नबीसों से भी मार्मिक अपील किया है कि इतिहास साक्षी है कि वे सदैव स्वथ्य समाज के पोसक एवं विष्वकर्मा रहे हैं।उनकी खबरों ने नई क्रांति की एक सुखद अलख जगाई है।कोरोना काल के इस संकट पूर्ण घड़ी में जहाँ आमजनमानस जीवन को लेकर उहा पोह में है।

ऐसे नाज़ुक हालात में खबरों में नमक मिर्च लगाकर बर्निग खबर बनाने से परहेज़ करें।मीडिया पर बहुत बडी जिम्मेदारी है। ताकि जनमानस के बीच भरोसे की नींव ढ़हने से बची रहे।प्रशासन भी पत्रकारों का करे अपेक्षाकृत सहयोग!पत्रकार यूनियन की प्रदेशअध्यक्ष एस.डी .पाल ने देश प्रदेश के सभी जिला प्रशासन से अपील किया है कि कोरोना एल 2 से सम्बंधित मरीजों एवं मृतकों की सही संख्या पत्रकारों के साथ साझा करें,साथ ही समाचार संकलन में उनका सहयोग करे।जनमानस के सामने सही तथ्य आ सकें।

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *