भारत ने पहली बार पाक को उसके घर में लताड़ा

इस्लामाबाद. पाकिस्तान में होम मिनिस्टर्स के सार्क कॉन्फ्रेंस में भारत-पाक के बीच सिर्फ तल्खी दिखी। गुरुवार को प्रोग्राम शुरू हुआ तो दोनों देशों के होम मिनिस्टर्स आमने-सामने तो हुए, पर फॉर्मल हैंडशेक तक नहीं किया। राजनाथ की स्पीच टेलिकास्ट नहीं होने दी गई। इसके बाद राजनाथ ने वहां के होम मिनिस्टर चौधरी निसार की ओर से दिया गया लंच छोड़ दिया। चार घंटे पहले ही दिल्ली लौट आए। सीधे पीएम से मुलाकात कर रिपोर्ट दी। शुक्रवार को वे संसद में पाक दौरे पर बयान देंगे। बता दें कि 1947 में बंटवारे के बाद ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी भारतीय मंत्री ने पाकिस्तान को उसकी जमीन पर ही इस तरह लताड़ लगाई हो। पाक में जाकर PAK को जमकर लताड़ा, ऐसे दिखाई ‘बहादुरी’…
1# दोपहर 12:15 बजे : राजनाथ ने फॉर्मल हैंडशेक नहीं किया
– पाक होम मिनिस्टर कॉन्फ्रेंस वेन्यू पर सबका वेलकम कर रहे थे। राजनाथ वहां पहुंचे।
– दोनों मंत्रियों ने बमुश्किल से एक-दूसरे का हाथ छुआ। फॉर्मल हैंडशेक नहीं किया।
– पीटीआई के मुताबिक, जैसे ही राजनाथ आए, वे निसार से मिले और तुरंत आगे बढ़ गए।
2# दोपहर 2 बजे : आतंकवाद के मुद्दे पर पाक को घेरा
– कश्मीर में मारे गए आतंकी बुरहान वानी के मुद्दे पर कहा- ”आतंकियों को शहीद कह कर महिमामंडित करना गलत है।”
– पाकिस्तान का नाम लिए बिना कहा- अच्छा और बुरा आतंकवाद नहीं होता।
– पठानकोट, काबुल और ढाका जैसे हमलों का जिक्र करते हुए कहा, ”आतंकवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जरूरत है।”
– उन्होंने कहा कि मुंबई हमले के आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।
3# दोपहर 2.15 बजे : तिलमिलाए PAK ने सेंसर की राजनाथ की स्पीच
– सार्क में राजनाथ की स्पीच को पाकिस्तान सरकार ने टेलिकास्ट से रोक दिया।
– केवल पाकिस्तानी सरकारी चैनल पीटीवी को स्पीच कवर करने की इजाजत थी।
– इंडियन मीडिया ही नहीं, पाकिस्तान के प्राइवेट चैनल को भी इसकी कवरेज की इजाजत नहीं मिली।
– नई दिल्ली से आई इंडियन मीडिया को दूर रखा गया। इसे लेकर पाकिस्तानी अफसरों से कहासुनी भी हुई।
4# दोपहर 2.53 बजे : राजनाथ ने खाना नहीं खाया
– समझा जा रहा है कि स्पीच की कवरेज रोके जाने से नाराज राजनाथ सिंह ने लंच छोड़ दिया।
– सार्क कॉन्फ्रेंस के मेजबान देश के तौर पर पाकिस्तानी होम मिनिस्टर चौधरी निसार ने लंच दिया था। वह भी वहां नहीं पहुंचे।
– इसके बाद राजनाथ भारत के लिए रवाना हो गए।
ब्लैक आउट पर सफाई की कोशिश
– देर शाम भारत और पाकिस्तान सरकारों की तरफ से यह बताने की कोशिश की गई की राजनाथ की स्पीच ब्लैक आउट नहीं की गई थी।
– सरकारी सूत्रों के मुताबिक, सार्क कॉन्फ्रेंस में मेजबान देश की ही स्पीच पब्लिक की जाती है। बाकी कार्यवाही इन कैमरा रहती है।
– इस बीच, पाकिस्तीनी मंत्री ने कहा कि आरोप-प्रत्यारोप से किसी का फायदा नहीं होने वाला। भारत कश्मीर में फोर्स का इस्तेमाल बंद करे।
क्या है सार्क?
– SAARC (साउथ एशियन एसोसिएशन फॉर रीजनल को-ऑपरेशन) साउथ एशिया के 8 देशों का इकोनॉमिक और पॉलिटिकल ऑर्गनाइजेशन है।
– इसकी शुरुआत 8 दिसंबर, 1985 को बांग्लादेश की राजधानी ढाका में भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, श्रीलंका, नेपाल, मालदीव और भूटान ने मिलकर की थी।

Get help now

Bear in mind

A study paper writing service could also have the ability to edit the applications for you and deliver your work up to date and prepared what is the best website for writing papers for entry.

that every newspaper is a special experience and therefore will have its own set of difficulties to confront.

so which you may find the very best writing service accessible.

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *