ये हैं बेहतरीन ओब्रे हेयर कलर करने का तरीका

बालों के आधे हिस्से को अलग रंग से कलर करने को ओंब्रे कहा जाता है। ये आजकल के कॉलेज गोइंग से लेकर ऑफिस जाने वाली लड़कियों के बीच काफी प्रचलित है। ओब्रें स्टाइल में बालों का एक हिस्सा ब्लीच किया जाता है। जिससे बालों को दो रंगों में कलर किया जा सके। एक गहरे कलर में और एक हल्के कलर में। अगर आप भी इस तरह से अपने बालों में रंग करना चाहते तो आराम से बाजार से कलर किट लाकरघर पर कर सकते है।

11

  • ओंब्रे के लिए प्राकृतिक रंगो का चुनाव करना ही बेहतर होता है, इससे बाल ज्यादा खूबसूरत लगते है। आमतौर पर लोग हल्के भूरे, या सुनहरे रंग ज़्यादा पसंद करते हैं। कोई ऐसा रंग चुनें जो अपने बालों के रंग के दुगुने से ज़्यादा हल्का न हो। चुने गए रंग और बालों के असली रंग में जितना कम अंतर होगा, बाल उतने ही प्राकृतिक दिखेगे।
  • आप चाहे तो बालों के सिरे गहरे रंग के व जड़ हल्के रंग के कलर कर सकती है। हालांकि पारंपरिक चलन के अनुसार बालों के सिरे जड़ की तुलना में हल्के रंगे होते हैं। बालों को रंगते समय ध्यान रखें कि वो सही जगह पर आकर मिल रहें हो, वरना भद्दे लग सकते है। दोनों रंगों का चेहरे के नज़दीक जबड़ों के आस-पास मिलना ठीक माना जाता है।
  • बालों को ब्लीच करने के लिए बालों को चार हिस्सों में बांट ले। पहले दो हिस्सों में बांटे फिर उन हिस्से को ऊपर-नीचें में बांट लें। बाल के जिस भाग से ओंब्रे की शुरुआत करनी है, उस भाग को थोड़ा सुलझायें ताकि जहाँ ब्लीच लगाया जाये वहाँ कुछ अलग-सा निशान न बने। ब्लीच को अंदर से बाहर तक ठीक तरह से लगाए।
  • बालों पर ब्लीच लगाकर उसे थोड़ी देर के लिए स्थर होने दे। उसके बाद द्सताने पहन कर बालों को बिना कैमिकल वाले शैंपू से धो ले। ध्यान रहे कि बालों से ब्लीच पूरी तरह निकल जाए वरना ये आपके रंग को ठी से चढ़ने नहीं देगा। ध्यान रहें कि शैंपू के तुंरत बाद कंडीशनर का प्रयोग ना करें।
  • बालों के अच्छी तरह से सूख जाने के बाद जितने भाग में ब्लीच किया वहां से रबड़ लगा कर बालों को फिर से चार भागों में बांट लें। अब कलर को ब्लीच की हुई सभी जगहों में लगाना चाहिए| साथ ही ब्लीच किए गए हर एक बाल को कलर से थोड़ा ऊपर तक रंगना चाहिए।

 

Share This:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *